17.9 C
London
Sunday, July 25, 2021

Delhi-Varanasi Bullet Train: यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे दौड़ेगी बुलेट ट्रेन, 4 घंटे में दिल्‍ली से वाराणसी

- Advertisement -spot_imgspot_img

नई दिल्‍ली/ वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का ड्रीम प्रोजेक्‍ट मानी जानी वाली बुलेट ट्रेन परियोजना एक और कदम आगे बढ़ गई है. दिल्ली के सराय काले खां से पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन (Delhi-Varanasi Bullet Train) के लिए एलिवेटेड ट्रैक यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे बिछाया जाएगा. जबकि इसके यूपी के नोएडा में दो स्‍टेशन होंगे. साफ है कि बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए सैद्धांतिक सहमति बुधवार को नियाल और रेलवे अधिकारियों के बीच हुई बैठक में बन गई है.बता दें कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jewar International Airport) की योजना के साथ ही सरकार ने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से यूपी के गौतम बुद्ध नगर के जेवर तक विमान यात्रियों को लाने का मंथन शुरू कर दिया था. अब नोएडा इंटनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड को दिल्ली से नोएडा एयरपोर्ट के बीच बुलेट ट्रेन चलाने के लिए ड्राफ्ट रिपोर्ट सौंपी जा चुकी है. साफ है कि अब कोई यात्रियों को कोई पेरशानी नहीं होगी.नोएडा को मिलेगी 2 स्टॉपेज की सौगात
बहरहाल, दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर का काम नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) के पास है. जबकि यह बुलेट ट्रेन दिल्ली के सराय काले खां शुरू होगी. वहीं, इसका पहला स्टॉपेज नोएडा का 148 सेक्टर रहेगा, तो दूसरा स्टेशन जेवर इंटनेशनल एयरपोर्ट होगा. वहीं, यह मथुरा, आगरा, इटावा, लखनऊ, रायबरेली, प्रयागराज होते हुए वाराणसी तक का सफर तय करेगी. इसके अलावा एक लाख 21 हजार करोड़ रुपये की इस परियोजना का चार चरणों में काम पूरा किया जाएगा. दिल्ली और नोएडा एयरपोर्ट के बीच पहले चरण के तहत काम इसी साल अगस्त अंत से प्रारंभ होने की उम्मीद है. इसके लिए यमुना अथॉरिटी ने मुफ्त में जमीन देने का फैसला किया है.इन शहरों में पड़ेगा बुलेट ट्रेन का स्टेशन
बुलेट ट्रेन स्टेशन यूपी के नोएडा और जेवर के अलावा मथुरा, आगरा, इटावा, कानपुर, लखनऊ, रायबरेली, प्रयागराज, संतरविदास नगर, मिर्जापुर और वाराणसी में होंगे. पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के मंडुआडीह में ट्रेन का अंतिम स्टॉपेज होगा. जबकि बुलेट ट्रेन के पहला चरण काम दिल्ली से आगरा तक, दूसरा चरण का आगरा से लखनऊ तक, तीसरा चरण का लखनऊ से प्रयागराज तक और अंतिम चरण का काम प्रयागराज से वाराणसी तक होगा.दिल्ली से वाराणसी पहुंचेंगे सिर्फ 3 घंटे 41 मिनट
यह बुलेट ट्रेन दिल्ली के सराय काले खां से जेवर एयरपोर्ट तक की 62 किलोमीटर की दूरी 21 मिनट में तय करेगी. जेवर एयरपोर्ट से राया कट (मथुरा) तक 20 मिनट में पहुंचेगी. जबकि दिल्ली से आगरा 55 मिनट, तो लखनऊ तक 2 घंटे 50 मिनट लगेंगे. वहीं, दिल्ली से वाराणसी तक 816 किलोमीटर का सफर तय करने में 3 घंटे 41 मिनट का समय लगेगा. इसके अलावा इस बुलेट ट्रेन में 800 पैसेंजर एक साथ सफर कर सकते हैं. जबकि इसकी क्षमता बढ़ाकर 1250 यात्रियों की जा सकती है.पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here